Cyber Thagi se kaise Bache // सायबर ठगी से कैसे बचे // Cyber Crime

Spread the love

Cyber Crime…कई बार बैंक के ग्राहक इस प्रकार ठगी के शिकार हो जाते हैं कि वह स्थिति को समझे उससे पहले ही उनका अकाउंट खाली हो जाता है वर्तमान में देखा जा रहा है कि जहां एक और बैंकिंग संबंधित सभी कार्य डिजिटल या ऑनलाइन होने लगे हैं जिनको देखकर लगता है कि अब दुनिया मुट्ठी में है।

अब ग्राहक घर बैठे ही अपना सारा बैंकिंग काम कर सकता है बिना बाहर जाए. जैसे बिजनिस, शॉपिंग, रिचार्ज, पेमेंट ट्रांसफर आदि, लेकिन अगर थोड़ी सी भी कहीं पर गलती या चूक हो गई तो आपके साथ इतनी बड़ी ठगी भी हो जाति है जिसके बारे में अभी तक आपने सोचा भी ना होगा

Cyber Thagi

Cyber Crimes क्या होता है
Cyber Crimes

Cyber Crime क्या होता है

साइबर अपराध को कंप्यूटर अपराध भी कहा जाता है साइबर अपराध एक प्रकार की अवैध गतिविधि है जो इंटरनेट या डिजिटल माध्यमों की सहायता से की जाती है। आम भाषा में कहे तो डिजिटल या इंटरनेट के माध्यम से किए गए अपराध को ही साइबर अपराध कहते हैं।

Cyber Crimes Thagi se kaise Bache

साइबर क्राइम अब नए नए रूप ले चुका है और हर रोज हजारों लोग ठगी के शिकार हो रहे हैं लोग कभी बैंक कॉलके नाम पर तो कभी ATM के नाम पर ठगी के शिकार हो रहे हैं तो कभी आकर्षक ऑफर के लालच में आकर ठगी के शिकार हो रहे हैं अब जब ग्राहक OTP और CVV नंबर जैसे संवेदनशील जानकारी देने से बचने लगे हैं तो इन साइबर ठगों ने कई नए तरीके निकाल लिये है

जहां एक तरफ हमारा देश डिजिटल इंडिया के सपने को साकार करने की दिशा में आगे बढ़ रहा है वहीं दूसरी ओर ठगों का एक बड़ा समूह, कई प्लेटफार्म के जरिए भोली-भाली जनता को ठगने का काम कर रहा है इससे देश में तेजी से ऑनलाइन ठगी के मामले बढ़ रहे हैं हालांकि देश को ऑनलाइन ठगी से बचाने के लिए सरकार लगातार ऐसे ठगों के खिलाफ बड़ी कार्रवाई कर रही है और साथ ही लोगों को जागरूक भी कर रही है

तो आइए जानते हैं ऑनलाइन ठगी से कैसे बचा जा सकता है….👇👇

  • सही वेबसाइट पर जाए जिसके लिए URL सही डालना चाहिए
  • किसी भी तरह के लालच और ऑफर में ना आए
  • अनजान व्यक्ति से फोन पर बात ना करें उसके बहकावे मैं ना आए
  • फेसबुक अकाउंट टि्वटर अकाउंट आईडी का पासवर्ड स्ट्रांग रखें
  • सोशल मीडिया पर आने वाले अंजान लिंक पर भूल कर भी क्लिक ना करें मतलब ऐसे लिंक को ओपन ना करें
  • व्हाट्सएप पर अनजान लोगों के आने वाले कॉल से बचे
  • बैंकिंग से जुड़े किसी भी काम के लिए हमेशा सही वेबसाइट पर जाएं जिसके लिए हमेशा सही यूआरएल डालना जरूरी है ध्यान रहे कि जब भी आप किसी पेज पर अपना यूजर आईडी और पासवर्ड डाल रहे हैं उस पेज का URL https से शुरू होना चाहिए

किन किन तरीको से होता है Cyber Crimes

Cyber Crimes देश के सबसे बड़े सार्वजनिक क्षेत्र का बैंक स्टेट बैंक ऑफ इंडिया ने ग्राहकों को सतर्क करते हुए ट्वीट पर पोस्ट शेयर करते हुए साइबर अपराधियों को ऑपरेट करने के तरीके और फिशिंग के बारे में जानकारी दी है जिसमें से लोगों को साइबर क्राइम से बचने के उपाय बताइए गए हैं

  • फर्जी फेक कॉल या whatsapp से अगर कोई आपको मैसेज या फोन कॉल करता है जो आपको बैंक के जैसा ही लगे और आपसे आपके ATM pin, CVV, पासवर्ड जैसी बैंकिंग जानकारी पूछे तो आपको यह जानकारी कभी भी किसी के साथ शेयर नहीं करनी है,
  • मतलब वह लोग आपको फोन करके आपके एटीएम कार्ड के नंबर और पासवर्ड अपने एटीएम कार्ड के CVV नंबर पूछते हैं और आपको बोलते हैं कि शायद आपका अकाउंट बंद हो गया है जिसे वापस चालू करने के लिए ये सारी डिटेल चाहिए, तो आपको बता दें कि बैंक अभी भी ग्राहक से फोन करके ऐसी डिटेल नहीं पूछता है
  • साइबर फ्रॉड गैंग सोशल मीडिया परधार्मिक और राजनीतिक अफवाह फैलाने काम करते हैं इन्हीं अपवाहो के साथ वो अपने लिंक डाल देते है अविश्वसनीय पेज या अकाउंट पर आएलिंक पर क्लीक ना करें
  • Cybar Crimes ब्लू फेसबुक जैसी सोशल नेटवर्किंग पर अशोभनीय कमेंट करना इंटरनेट से धमकी देना किसी का इस तरह से करना साइबर लिंक होता हैइनसे बचे
Cyber Crimes
Cyber Crimes

कैसे ठगा जाता आमा आदमी को ऑनलाइन

Cybar Crimes..इसमें जालसा स्टाइल लोगों को ऑनलाइन रखते हैं पिछले कुछ समय में Cyber Crimes के मामले में तेजी से बढ़ोतरी हुई है जिससे आम आदमी इस Cyber Crimes के तरीके के बारे में थोड़ी बहुत जानकारी जुटा है या जागरूक होता है उससे पहले ही यह एक और नया तरीका निकाल लेते हैं

Cybar Crimes लोगों को अलग-अलग तरह से मैसेज करते हैं सोशल मीडिया के माध्यम से लिंक भेजते हैं और फ्रॉड कॉल सेंटर खोल कर कॉल करते हैं ऑनलाइन पर गोगा पहला उद्देश्य इस सभी तरीकों से लोगों की बैंक डिटेल्स डाटा एक करना होता है और फिर इन्हीं डाटा के आधार पर लोगों को विश्वास में लेकर ठग लेते हैं Cyber Crimes

फिसिंग फ्रोड किसे कहते है

ऑनलाइन जाल बिछाकर लोगों को फसाना और फिर उनसे ठगी करना ही फिशिंग कहा जाता है आपको बता दें कि इंटरनेट के इस्तेमाल से Cyber Crimes करने को फिशिंग कहते हैं Cyber Crimes लोगों से उनकी पर्सनल डीटेल्स जैसे बैंक अकाउंट डिटेल्स क्रेडिट कार्ड और डेबिट कार्ड नंबर नेट बैंकिंग यूजर आईडी पासवर्ड पिन आदि की जानकारी ले लेते हैं उसके बाद वह उनके अकाउंट को खाली कर देते हैं

किस तरह रखे खुद को फिसिंग से सुरक्षित

खुद को इस तरह से Cyber Crimes से सुरक्षित रखने के लिए आप हमेशा इस बात का ध्यान रखें कि किसी भी अनजान व्यक्ति जो किसी भी टेलीकॉम कंपनी का ऑपरेटर बता कर बात कर रहा है या फिर किसी बैंक का अधिकारी बात कर रहा हूं इस तरह के लोगों को पर्सनल डिटेल शेयर ना करें साथ ही व्हाट्सएप मैसेज टेक्स्ट मैसेज ईमेल लिंक पर बिना सोचे समझे क्लिक ना करें

ये भी जाने….👇👇

गलत अकाउंट मे पैसे जमा हो जाये तो क्या करे

Banking Fraud || बैंकिग फ्रॉड से कैसे बचे, किन किन तरीको से हो रहा है फ्रॉड

Rate this post

Leave a Comment